कश्मीरियत सिर्फ आज़ादी नहीं

मैं बात करती हूँ जब भी किसी कश्मीरी से,

बहुत बारीकी से मैं उसकी समीक्षा करती हूँ।
सोचती हूँ,क्या करते हैं इनको  वाहियात कुछ मसले हैं,
इनकी ज़िन्दगी में ,
और बहुत अरसे से!
एक आम ज़िन्दगी में,
मसले कुछ और भी होते हैं,
जैसे कि तालीम, जैसे कि रोज़गार,
ज़िन्दगी से प्यार!
Most of the time,
this is on back of my mind.
I’ll return for you,kids.
There,Education deprived.
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s