हमें ख़ुशी है कि हम भारतीय हैं, हम गणतंत्र हैं और रहेंगे!

देश के स्वतंत्र अस्तित्व की मैं समीक्षा करता हूँ ,
अपनी मातृभूमि पर मैं जी-जान से मरता हूँ।
कोई दीवानगी की हद है, जिसे मैं पार नहीं करता हूँ?
मैं भारतीय हूँ, मैं भारत हूँ,
मैं अभिव्यक्ति हूँ, मन में मैं यही सोच कर खुश रहता हूँ।
मुझमें भारत सांस लेता है, मैं भारत से हूँ।
जय हिन्द !
भारत के ६७वें  गणतंत्रता दिवस पर हम देशवासी अपनी स्वांसों में एक स्फूर्ति , एक नयी ताज़गी महसूस कर रहे हैं।  हमें गर्व है, हमें ख़ुशी है कि हम भारतीय हैं, हम गणतंत्र हैं और रहेंगे!

 

Feeling Grand Today!.jpg

हम गणतंत्र हैं और रहेंगे!

http://www.c-infiniti.in

Advertisements
This entry was posted in Abstract, Activities, Around Us, Celebrations, Communications, Country, Country & Its Unique Traditions, Daily Life, Days to cherish, Expressions, Greetings, History, India, India-Land of Festivals, Information, Interactions, International News, Into that Heaven of Freedom,My Father!, Miscelleneous, Nation, Observations, Observing around, Occasions, Our People, Our Strength, Our Surroundings, Pace of Time, Remembering Unforgettable Ones, Sentiments, Soothing Moments, Special Occasions, Thought-Zone, Tides of Happiness, Time Rustle, Tourism, Treasures of Happiness, Trends, Unique Traditions of our country, Uniqueness, Upcoming, Way to be, Welcome 2016!, Wings, World for Tomorrow, World Today and tagged . Bookmark the permalink.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s